मरने से पहले सुनंदा कहा था- अब और जीना नहीं चाहती



सुनंदा पुष्कर मामले की जांच कर रही पुलिस ने सोमवार को अदालत में बताया कि सुनंदा ने दिल्ली के एक आलीशान होटल में मौत से पहले अपने पति को एक ईमेल किया था। उस ईमेल में उन्होंने लिखा था- ‘मुझे जीने की और इच्छा नहीं है…..सभी मेरे मौत की दुआ करें।’

दिल्ली पुलिस ने एडिशनल चीफ मेट्रोपोलिन मजिस्ट्रेट समर विशाल से कहा- सुनंदा की मेल और सोशल मीडिया पर उनके मैसेज को मौत से पहले की जानकारी के तौर पर लिया जाना चाहिए। अब इस केस में थरूर को आरोपी के तौर पर तलब किया जाए या नहीं इस पर फैसला 5 जून को किया जाएगा।

दिल्ली पुलिस ने कोर्ट को यह भी बताया कि सुनंदा की मौत ज़हर के चलते हुई है और 27 अलप्रैक्स टैबलेट उनके कमरे से बरामद हुई है। लेकिन, अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि उनमें से कितनी गोलियां उन्होंने खाई थी।

इससे पहले, दिल्ली पुलिस ने 14 मई को तिरूवनंतपुर से लोकसभा सांसद के ऊपर सुनंदा को खुदकुशी के लिए उकसाने का आरोप लगाते हुए कोर्ट से कहा कि थरूर को इस केस में अभियुक्त के तौर पर तलब किया जाना चाहिए। दिल्ली पुलिस ने दावा किया कि साढ़े चार साल पुराने इस केस में उनके पास थरूर के खिलाफ पर्याप्त सबूत है।