मोदी सरकार के कार्यकाल में करीब सवा करोड़ रोजगार में कमी आई : तृणमूल कांग्रेस



हर साल दो करोड़ लोगों को रोजगार देने का वादा करने वाली मोदी सरकार के कार्यकाल में करीब सवा करोड़ रोजगार में कमी आ गयी है। यह जानकारी राज्यसभा में तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओ ब्रायन ने पत्रकारों के सामने सरकारी आंकड़ों को पेश करते हुए दी। उन्होंने कहा कि आज राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान हमारी पार्टी के सदस्य ने केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष कुमार गंगवार से यह प्रश्न किया था कि देश में बेरोजगारों की संख्या कितनी है, तो सरकार ने जवाब दिया कि अभी इस संबंध में सूचना एकत्र की जा रही है।

उन्होंने कहा कि सरकार इस बात की सूचना नहीं दे रही है जबकि मैं आप लोगों को वार्षिक घरेलू बेरोजगारी सर्वेक्षण के सरकारी आंकड़े के हवाले से यह बता रहा हूं कि देश में 2013-14 में कुल 48 करोड़ चार लाख लोगों को रोजगार मिला था जो 2015-16 में घटकर 46 करोड़ 76 लाख रह गया। इस तरह देश में करीब सवा लाख नौकरियां और कम हुई हैं।

डेरेक ब्रायन ने कहा कि उन्हें यह देखकर आश्चर्य हुआ कि मोदी सरकार के पास देश में बेरोजगारों की संख्या का कोई रिकार्ड नहीं है और वह इस संबंध में अभी सूचना ही इकठ्ठी कर रही है। उन्होंने वार्षिक सालाना घरेलू बेरोजगारी सर्वेक्षण के हवाले से इस बात का भी आंकड़ा पेश किया कि वर्ष 2012-13 में बेरोजगारी दर 4.7 प्रतिशत था जो कि 2013-14 में बढ़कर 4.9 प्रतिशत हो गया और 2015-16 में तो यह बढ़कर पांच प्रतिशत हो गया।