भ्रष्टाचार के मुद्दों पर देश का चौकीदार मौन : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी


कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर खोखले वादे करने और झूठ बोलने का आरोप लगाया, और कहा कि न्यायपालिका, महिला सुरक्षा, दलितों, युवाओं, किसानों के अलावा भ्रष्टाचार के मुद्दों पर देश का चौकीदार मौन है। राहुल ने यहां पार्टी की तरफ से आयोजित जन आक्रोश रैली में मोदी पर तीखा हमला किया और भ्रष्टाचार, किसानों की समस्या, बेरोजगारी, महिलाओं पर अत्याचार, राफेल सौदे में घोटाला, और एजेंडा-विहीन चीन दौरे सहित कई सारे मुद्दों पर मोदी को कटघरे में खड़ा किया।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस इस वर्ष सभी विधानसभा चुनाव जीतेगी और 2019 का लोकसभा चुनाव भी जीतेगी।

राहुल ने कहा, “मोदी सरकार ने चार वर्षो में बेरोजगारी दी, भाजपा विधायकों ने महिलाओं पर अत्याचार किए, अनौपचारिक क्षेत्र बर्बाद हो गए, मोदीजी चीन का सामना नहीं कर सके।”

राहुल ने लगभग 30 मिनट के अपने भाषण में कहा कि मोदी अपने भाषणों में वादे तो करते रहते हैं, लेकिन जनता उनके वादों में सच्चाई नहीं ढूढ़ पाती।

राहुल गांधी ने वरिष्ठ पार्टी नेता सलमान खुर्शीद का उनकी हाल की टिप्पणी के लिए बचाव करते हुए कहा कि वह पार्टी में विभिन्न विचारों को मौका देते हैं, लेकिन साथ ही उन्होंने पार्टी के लोगों से यह भी कहा कि आरएसएस के खिलाफ वैचारिक लड़ाई मिलकर लड़नी है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने न्यायाधीश बी.एच. लोया की मौत पर कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के लोग कहते हैं कि न्यायालय पर दबाव बनाया जा रहा है, लेकिन मोदी चुप हैं, और वह उस समय भी चुप रहे, जब जनवरी में चार न्यायाधीशों ने अभूतपूर्व संवाददाता सम्मेलन किया, देश को सच्चाई बताई। क्या देश को लोया की मौत का सच जानने का हक नहीं है?

राहुल को पिछले दिनों हवाईयात्रा के दौरान संभावित खतरे का सामना करना पड़ा था, जब उन्हें नई दिल्ली से लेकर कर्नाटक के हुबली जा रहे विमान ने आसमान में गोता लगाया था। इस घटना को याद करते हुए उन्होंने कर्नाटक चुनाव के बाद कैलाश मानसरोवर की तीर्थयात्रा करने की घोषणा की।