शांति मिशन में तैनात भारतीय सेना के ले. कर्नल गौरव सोलंकी की डूबने से मौत, साथी को बचाने में जान गई


संयुक्त राष्ट्र के शांति मिशन के तहत डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो (डीआरसी) में तैनात भारतीय सेना के लेफ्टिनेंट कर्नल गौरव सोलंकी की झील में डूबने से मौत हो गई। वे रविवार (8 सितंबर) को यहां की लेक कीवु में कयाकिंग करने गए थे। संयुक्त राष्ट्र मिशन की ओर से बताया गया है कि उनका सहयोगी डूब रहा था और उसे बचाने में गौरव की जान चली गई।

डीआरसी में संयुक्त राष्ट्र कार्यालय को मोनुस्को के नाम से जाना जाता है। संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस के डिप्टी स्पेशल रिप्रजेंटेटिव फ्रैंकोइस ग्रिगनोन ने ले. कर्नल सोलंकी की समर्पण भावना की तारीफ की। उन्हों कहा कि गौरव सोलंकी ने संयुक्त राष्ट्र के संदेश को कांगो के पीड़ित परिवारों तक पहुंचाने का काम किया। शांति मिशन के तहत मोनुस्को में फिलहाल 2,613 भारतीय सैनिक सेवाएं दे रहे हैं।