गौ तस्करी के आरोप में ग्रामीणों ने एक को जमकर पीटा, दो फरार; 7 गोवंश बरामद


अलवर जिले शाहजहांपुर थाना क्षेत्र के खुसा की ढाणी में मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार खुसा की ढाणी में ग्रामीणों ने रात करीब एक बजे मुनफेद को गो तस्करी के आरोप में पकड़कर उसकी जमकर पिटाई कर दी। जिसे पुलिस ने ग्रामीणों से छुड़ाकर अस्पताल में भर्ती करवाया है। जहां उसका इलाज चल रहा है।

जानकारी के अनुसार खुसा की ढाणी से 3 कथित तौर पर गौ तस्कर टाटा 407 में 7 गोवंश को लेकर हरियाणा की ओर जा रहे थे। इस दौरान पहरा दे रहे ग्रामीणों ने रोड पर ट्रैक्टर ट्रॉली तिरछा लगाकर वाहन को रोक लिया। जिसे देखकर तीनों आरोपी अपना वाहन लेकर वापस भागने लगे। पीछा कर रही शाहजहांपुर थाना पुलिस ने गौ तस्कर के वाहन को सामने से टक्कर मारकर रोक लिया। जिससे घबराकर आरोपी अपने वाहन से उतर कर भाग गए। आरोपियों के पीछे पुलिसकर्मी ओर ग्रामीण अंधेरे में भागते रहे लेकिन 2 आरोपी फरार हो गए। जबकि एक को ग्रामीणों ने पकड़ लिया।

इस दौरान पकड़े गए आरोपी मुनफेद की ग्रामीणों ने पिटाई कर दी। जिस पर पहले भी गौ तस्करी के मामले दर्ज हैं। मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी ग्रामीणों से आरोपी को छुड़ाते रहे पर ग्रामीणों गोतस्कर को नही छोड़ा। पुलिसकर्मियों ने शाहजहांपुर थाने में फोन कर कर अतिरिक्त जाब्ता बुलाया। जिसके बाद थानाधिकारी व अतिरिक्त जाब्ता मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को समझाइश कर ग्रामीणों से आरोपी को छुड़वाया गया।

टाटा 407 में 7 गोवंश, 1 की मौत

बताया जा रहा है कि तीनों आरोपी कोटपुतली के हीरा मोती सिनेमा के पीछे से गोवंशों को अपने वाहनों में भरकर लाए थे। जो हरसोरा बानसूर होते हुए शाहजहांपुर की ओर से हरियाणा जा रहे थे। गौ तस्करों के वाहन में 7 गोवंश सवार थे। जिन्हें पुलिस ने छुड़वा लिया। जिनमें से 1 गोवंश की मौत हो गई। सभी गोवंश के हाथ पैर मुह रास्सो से बांध रखे थे।