इस प्रकार के दीपक जलाने से होते हैं ये फायदे



हिंदू धर्म शास्त्रों में दीप जलाने की परंपरा प्राचीन समय से चली आ रही है। पूजा-पाठ में दीपक जलाने से जहां देवी-देवता प्रसन्न होते हैं और वहीं सकारात्मक ऊर्जा भी फैलती है। और नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है। दीपक से जुड़े ऐसे कई उपाय हैं जो घर की सुख-शांति को बनाए रखते हैं। तो आइए हम आपको बताते है इन के बारे में।

1. अगर किसी को धन संबंधी समस्या बनी रहती है तो घर के मंदिर में नियमित रूप से शुद्ध घी का दीपक जलाएं। इससे देवी लक्ष्मी प्रसन्न होंगी ।

2. शत्रुओं से पीड़ा हो अथवा कोई आपको परेशान करता है तो शनिदेव और भैरो बाबा के समक्ष नियमित तेल का दीपक जलाना चाहिए।

3. शिक्षा, कला, साहित्य के क्षेत्र से जुड़े हैं, तो सरस्वती मां के समक्ष दो मुखी घी का दीपक जलाने से ज्ञान में वृद्धि होती है। भगवान गणेश की कृपा प्राप्ति के लिए तीन बत्तियों वाला घी का दीपक जलाना चाहिए। लक्ष्मी जी के समक्ष सातमुखी घी का दीपक जलाएं।

4. भगवान भोलेनाथ की नियमित पूजा कर, उनके समक्ष बारहमुखी दीपक जलाने से वह जल्द प्रसन्न होकर सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं।

5. पूजा की थाली में दीपक कई प्रकार के हो सकते हैं। जैसे- मिट्टी, आटा, तांबा, चांदी, लोहा, पीतल तथा स्वर्ण धातु का। सर्व प्रकार की साधनाओं में मूंग, चावल, गेहूं, उड़द तथा ज्वार को समान भाग में लेकर इसके आटे का दीपक श्रेष्ठ होता है। जिसे शुद्ध गाय के घी और तिल के तेल के साथ भी जलाया जा सकता है।

6. घर की उत्तर दिशा में दीपक जलाने से आयु और धन में वृद्धि होती है और हर मनोकामना पूरी होती है।