बकरियां चराने गए 3 भाई बांध में नहाने को उतरे, डूबने से मौत


बेलवा राणाजी गांव में चडायत नगर भीलों की ढाणियों में बकरियां चराने गए दो सगे भाइयों व एक चचेरे भाई की डूबने से मौत हो गई। दो बच्चे पांचवीं व एक चौथी कक्षा में पढ़ाई कर रहे थे।

ग्रामीणों ने बताया कि भीलों की ढाणियों के 10 से 15 साल की उम्र के छह बच्चे बकरियां चराने के लिए अपनी ढाणियों से थोड़ी दूरी पर बने बंधे एरिया में गए थे। बकरियां चर रही थी, तब सभी बच्चे पेड़ के नीचे बैठे थे। इनमें से राजूराम (12) पुत्र भंवराराम, उसका भाई रूपाराम (10) पुत्र भंवराराम व उसके चाचा का लड़का सांगाराम (10) पुत्र पाबूराम भील बंधे में नहाने का कहकर चले गए। जहां चिकनी मिट्टी से पैर फिसलने से वहां पर बने गड्ढों में फंस गए। काफी समय बाद भी तीनों नहाकर नहीं लौटे तो बाहर बैठे तीन बच्चे बंधे की तरफ भागे। तब तक तीनों डूब गए थे। बच्चों ढाणी में जाकर बताया तब लोग पहुंचे, लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी।