24 घंटे में सुसाइड के तीन मामले आए सामने, महिला ने किया सुसाइड, पति पर दहेज हत्या का केस


कोटा। शहर में पिछले 24 घंटे यानी गुरूवार रात से शुक्रवार रात तक सुसाइड के तीन अलग-अलग मामले सामने आए हैं। कोचिंग छात्र, विवाहिता और एक युवक ने फांसी लगाकर जान दे दी। जवाहर नगर, महावीर नगर और कैथून के इन तीनों मामलों में सुसाइड के स्पष्ट कारण सामने नहीं आए हैं। पुलिस ने तीनों मामलों की अलग-अलग जांच शुरू कर दी है। वहीं, महावीर नगर के मामले में पुलिस ने विवाहिता के पिता की रिपोर्ट पर पति समेत परिजनों पर दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज किया है।

कैथून निवासी जितेंद्र (30) पुत्र नारायण ने गुरुवार रात को घर पर फांसी का फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया। जिस समय जितेन्द्र ने सुसाइड किया, परिजन कोटा अनंत चतुर्दशी का जुलूस देखने गए हुए थे। परिजन घर पहुंचे तो युवक फांसी के फंदे पर लटका हुआ मिला। कैथून पुलिस का कहना है कि मौके पर किसी प्रकार का सुसाइड नोट नहीं मिलने से युवक की मौत के कारणों का पता नहीं चल पाया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

महिला के पिता ने लगाया दहेज के लिए प्रताड़ित करने का आरोप

महावीर नगर की कंपीटिशन कॉलोनी में प्रियंका मेहरा ने फांसी लगाकर जान दे दी। प्रियंका की शादी 2014 में मनीष पुत्र राधेश्याम मेहरा के साथ हुई थी। पिता राजू मेहरा ने पुलिस को रिपोर्ट दी, जिसमें कहा है कि उसकी बेटी की हत्या की गई है। राजू ने रिपोर्ट में पति समेत अन्यों पर आरोप लगाया है कि शादी के बाद से पति व ससुराल वाले प्रियंका को दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे। आए दिन मारपीट करते थे और परेशान करते थे। खाना तक नहीं देते थे। महावीर नगर सीआई हरीश भारती का कहना है कि मृतका के पिता राजू की रिपोर्ट पर पति मनीष व 4-5 अन्य घरवालों पर दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया हैं। मृतका का शनिवार को पोस्टमार्टम करवाया जाएगा, उसके बाद ही फांसी लगाने की असलियत सामने आएगी।

छात्र ने पढ़ाई के तनाव में सुसाइड कर दी जान : जवाहर नगर थाना क्षेत्र में एक कोचिंग छात्र ने गुरुवार रात को सुसाइड करके जान दे दी। भीलवाड़ा जिला निवासी रोहित सुवालका (18) पुत्र सत्यनारायण इंदिरा विहार में किराए से रहकर मेडिकल की तैयारी कर रहा था। जवाहर नगर थाना एएसआई अनोखे सिंह ने बताया कि मृतक के शव का एमबीएस में पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों के सुपुर्द कर दिया हैं। छात्र ने मरते समय सुसाइड नोट छोड़ा हैं, जिसमें लिखा था मैं परिवार की उम्मीदों पर खरा नहीं उतरा इसलिए मौत को गले लगा रहा हूं। इधर, छात्र के पिछले कई दिनों से कोचिंग नहीं जाने की बात भी सामने आई, जिसकी पुलिस ने पुष्टि नहीं की हैं। सुसाइड के पीछे प्रारंभिक रूप से पढ़ाई के तनाव की बात सामने आई है।