हैरान करने वाली दो घटनाएं- शव काे नमक में दबाया, ताकि सांसें फिर चलें; लाइनमैन ने किया डूबने का ड्रामा


जिले में दाे हैरान करने वाले मामले सामने अाए। यहां कोठियां की खारी नदी के एनीकट में रविवार को एक किशोर डूब गया। डॉक्टराें ने उसे मृत घोषित कर दिया, लेकिन पिछले कुछ दिनों से वाट्सएप पर वायरल हाे रहे अंधविश्वास से भरे मैसेज काे सही मानते हुए परिजनाें ने बच्चे का शव नमक के ढेर में गले तक दबा दिया।

मैसेज में था कि डूबने से मौत होने पर शव का दाह संस्कार नहीं करें, बल्कि तीन घंटे तक उसे नमक में रखेंगे ताे सांसें फिर से चलने लगेंगी। रात अाठ बजे तक परिजन शव काे दबाकर बैठे रहे, लेकिन सांसें नहीं चलीं।

उधर, आगूंचा-परशरामपुरा के बीच मानसी नदी पर बिजली विभाग के दाे लाइनमैन मिश्रीलाल लौहार व दूदाराम ने हैरतअंगेज ड्रामा किया। पहले ताे ये लाइट काटकर नदी पर पहुंचे, फिर अचानक डूबने का नाटक शुरू कर दिया। ग्रामीणाें काे पता लगा ताे वे माैके पर पहुंचे अाैर दाेनाें काे बचाने की तैयारी में जुट गए। इस बीच दूदाराम ताे दूसरी तरफ निकल गया, लेकिन मिश्रीलाल ने अपना ड्रामा जारी रखा। वह ताराें पर लटकते हुए किनारे पर पहुंचा। उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।