नगरीय विकास मंत्री ने जिला दर्शन पुस्तिका का विमोचन



जयपुर। नगरीय विकास, आवासन एवं स्वायत्त शासन मंत्री श्री श्रीचंद कृपलानी ने जिला स्तरीय समारोह आयोजन के तहत ग्रामीण विकास सभागार में जिला प्रशासन तथा सूचना एवं जनसंपर्क कार्यालय द्वारा राज्य सरकार के गत चार वर्षों की उपलब्धियों पर आधारित ‘जिला दर्शन चित्तौड़गढ़’ पुस्तिका का अतिथियों के साथ विमोचन किया। उन्होंने नगर विकास न्यास चित्तौड़गढ़ द्वारा विकास कार्यों पर आधारित पुस्तिका का भी विमोचन किया।
इस अवसर पर सांसद श्री सी.पी.जोशी, जिला प्रमुख श्रीमती लीला जाट, विधायक श्री अर्जुन लाल जीनगर, श्री चन्द्रभान सिंह ‘आक्या’, श्री सुरेश धाकड़, सभापति श्री सुशील शर्मा, डेयरी अध्यक्ष श्री बद्रीलाल जाट, जिला कलक्टर श्री इन्द्रजीत सिंह, जिला पुलिस अधीक्षक श्री प्रसन्न खमेसरा, अति. कलक्टर प्रशासन श्री नारायण सिंह चारण, नगर विकास न्यास सचिव श्री सी.डी.चारण भी उपस्थित थे।
नगरीय विकास, आवासन एवं स्वायत्त शासन मंत्री श्री श्रीचंद कृपलानी ने ग्रामीण विकास सभागार में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में राज्य सरकार के चार वर्ष की उपलब्धियों को इंगित करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे के नेतृत्व में प्रदेश के चहुंमुखी विकास के लिए गंभीर प्रयास किए है, जिसका हर वर्ग के लोगों को लाभ मिल रहा है।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे की मंशा के अनुरूप विकास के क्षेत्र में अग्रणी पायदान पर ले जाने के प्रयास जारी है। श्री कृपलानी ने कहा कि चिकित्सा, शिक्षा, सड़क, बिजली, पानी, ग्रामीण एवं शहरी विकास, स्वच्छ भारत मिशन, मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान, अन्नपूर्णा योजना, मुख्यमंत्री जनसंवाद तथा राजस्थान संपर्क पोर्टल, न्याय आपके द्वार, पण्डित दीनदयाल उपाध्याय विशेष योग्यजन शिविरों के तहत निःशक्तजनों का पंजीयन, कौशल विकास एवं रोजगार, कृषि, सहकारिता,  सहित हर क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किये गए है।
उन्होंने कहा कि जिला कलक्टर श्री इन्द्रजीत सिंह एवं उनकी टीम के अधिकारियों ने जिले में सरकार की योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन किया जाकर लोगों को पूरा-पूरा लाभ पहुंचाने के प्रशंसनीय प्रयास किए है। उन्होंने जिले में बेहतर कानून व्यवस्था के लिए जिला पुलिस अधीक्षक श्री प्रसन्न खमेसरा एवं उनके अधिकारियों की टीम की भी सराहना की।
श्री कृपलानी ने कहा कि राज्य सरकार के आगामी कार्यकाल में विकास को और गति प्रदान की जाएगी तथा चित्तौड़गढ़ जिले को प्रगतिपथ पर अग्रसर किया जाएगा।