किस उंगली में चक्र का क्या परिणाम बताया गया है समुद्रशास्त्र में, जानिए



हथेली पर बनी रेखाओं के बारे में तो हर कोई जान लेता है, उन्हें देखकर अपना भविष्य तय कर सकता है लेकिन उंगलियों पर बने चक्र पर कम ही लोगों का ध्यान जाता है। उंगलियों के ऊपरी भागों में कई तरह के निशान होते हैं जैसे- शंख, चक्र आदि। लेकिन अगर उंगलियों के ऊपरी हिस्सों में चक्र का निशान हो तो इसका क्या मतलब होता है। आइए जानते हैं इनका किन-किन स्थानों पर होना क्या-क्या प्रभाव दिखाता है.

कनिष्ठा उंगली पर निशान 
जिस जातक की कनिष्ठा उंगली यानी सबसे छोटी उंगली पर च्रक चिन्ह रहता है, वह व्यापार में बहुत धन कमाता है। वहीं जिस जातक की इस उंगली में कोई चक्र नहीं है तो उनका व्यापार सामान्य चलता है और मेहनत करने के बाद ही सफलता मिलती है।

अनामिका उंगली पर निशान 
अनामिका यानी सबसे छोटी उंगली के पास वाली उंगली पर चक्र होना शुभ संकेत नहीं है। यह आपकी लगातार परिक्षा लेता है तब जाकर आपको ऐशवर्य और भौतिक सुख मिलता है। इसे सूर्य की उंगली माना जाता है।

मध्यमा उंगली पर निशान 
मध्यमा यानी बीच की उंगली पर चक्र का निशान होने से व्यक्ति धार्मिक प्रवृत्ति का होता है। चूंकि यह उंगली शनि की होती है इस वजह से उन पर शनि ग्रह की कृपा बनी रहती है। ऐसे जातक धनवान भी होते हैं। अगर जिस जातक के इस उंगली पर चक्र नहीं होता है, वह अपने परिश्रम के दम पर बड़े नेता या अधिकारी बनते हैं।

तर्जनी उंगली पर निशान 
जिस जातक के तर्जनी यानी अंगूठे के पास वाली उंगली पर चक्र का निशान होता है तो ऐसे व्यक्ति धनवान, अनेक मित्रों से युक्त होकर मित्रों से लाभ पाने वाले होते हैं। यह महत्वाकांक्षी भी होते हैं। सांसारिक सुखों का भोग कर सुखपूर्वक अपना जीवन व्यतीत करते हैं।

अंगूठे पर निशान 
जिस जातक के अंगूठे पर चक्र का निशान हो तो वह ऐश्वर्यवान, प्रभावशाली, दिमागी कार्य में निपुण, उत्तम गुणयुक्त, पिता का सहयोग व धन पाने वाला होता है। ऐसे जातक कोई ऐसा कार्य करते हैं जिससे इनका यश बना रहे। साथ ही यह अपने पूर्वजों की संपत्ति के अधिकारी भी होते हैं। अगर जातक के अंगूठे पर चक्र नहीं है तो वह संपत्ति की देखभाल नहीं कर पाता।