भगवान राम की मूर्ति के लिए योगी ने निकाला फॉर्मूला



त्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भगवान राम की 100 मीटर की भव्य मूर्ति बनवाने की योजना बना रहे हैं। यह भव्य मूर्ति अयोध्या में सरयू तट पर बनेगी, जिसके जरिए वह सामाजिक विकास के लाना चाहते हैं। इस मूर्ति के निर्माण के लिए योगी आदित्यनाथ उद्योगपतियों से फंड इकट्ठा करने की योजना बना रहे हैं। योगी सरकार ना सिर्फ अयोध्या बल्कि प्रदेश के कई जिलों में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए उद्योगपतियों को आकर्षित करने की कोशिश कर रही है।

86 पर्यटन स्थल का होगा विकास

प्रदेश सरकार ने प्रदेश में 86 पर्यटन स्थलों का कायाकल्प 2725 करोड़ रुपए से करने का फैसला लिया है, जोकि 10 मुख्य शहरों में है। इन शहरों में वाराणसी और गोरखपुर भी शामिल है। सरकार चाहती है कि इस प्रोजेक्ट में उद्योगपति अपने लाभ का 2 फीसदी सीएसआर इसमे लगाए जिसे देना अनिवार्य किया गया है। सरकार के इन 86 पर्यटन स्थलों में अयोध्या में 100 मीटर की भगवान राम की मूर्ति काफी अहम है, जिसके निर्माण की कुल लागत 330 करोड़ रुपए है।

नव अयोध्या का निर्माण

साथ ही नव अयोध्या के विकास के लिए विकास परियजनाओं की शुरुआत की जाएगी। नया अयोध्या सरयू तट पर 350 करोड़ रुपए की लागत से बनाया जाएगा। यहां 7डी रामलीला, रामकथा गैलरी, लाइट एंड साउंड शो और और म्युजिकल फाउंटेन का भी निर्माण कराया जाएगा। इस प्रोजेक्ट का ऐलान योगी आदित्यनाथ ने पिछले साल किया था, जिसके ठीक बाद अखिलेश यादव ने कहा था कि वह सैफई में भगवान कृष्ण की 50 मीटर की मूर्ति बनवाएंगे।

वैश्विक पर्यटन स्थल बनने की क्षमता

यूपी के पर्यटन विभाग के मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि इन बड़े प्रोजेक्ट्स के लिए 755 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है। भगवान राम के भक्तों के लिए अयोध्या गर्व की जगह है, अयोध्या में वैश्विक पर्यटन स्थल बनने की पूरी काबिलियत है। इसके अलावा गोरखनाथ मंदिर के भीतर भी 45 करोड़ रुपए का निर्माण होगा। आपको बता दें कि आदित्यनाथ अभी भी यहां के मुख्य पुजारी हैं।

इन जगहों पर भी होगा विकास

इसके अलावा इलाहाबाद के संग में कुंभ मेला के लिए 200 करोड़ रुपए के बजट का आवंटन किया गया है, मथुरा में परिक्रमा रूट का भी निर्माण कराया जाएगा, माना जाता है कि यहां भगवान कृष्ण ने गोवर्धन पर्वत को अपनी उंगली पर उठाया था। साथ ही वाराणसी में पंचकोसी परिक्रमा के निर्माण के लिए 100 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है। वाराणसी और अयोध्या में सड़को को बेहतर किया जाएगा। मुख्य इमारतों का जीर्णोद्धार किया जाएगा, वाराणसी के अस्सी घाट में लाइट एंड साउंड शो का आयोजन किया जाएगा।
यहां खींचने की कोशिश करेंगे।